जवाहरलाल नेहरू पर 10 लाइनें | 10 Lines on Pandit Jawaharlal Nehru in Hindi

पंडित जवाहरलाल नेहरू हमारे भारत देश के प्रथम प्रधानमंत्री थे ये तो हम सभी जानते हैं लेकिन आज हम उनके बारे में बहुत सी जानकारी जानेंगे।

10 Lines on Pandit Jawaharlal Nehru in hindi

Jawaharlal Nehru par 10 line

  1. जवाहर लाल नेहरू जीका पूरा नाम पंडित जवाहर लाल मोतीलाल नेहरू है।
  2. नेहरू जी का जन्म 14 नवम्बर 1989 को प्रयागराज (पुराना नाम इलाहाबाद) उत्तर प्रदेश में हुआ था।
  3. नेहरू जी की माता जी का नाम स्वरूप रानी और पिता जी का नाम पंडित मोतीलाल नेहरू था।
  4. जवाहर लाल नेहरू की पत्नी का नाम कमला नेहरू था।
  5. जवाहर लाल नेहरू ने अपनी बैरिस्टर की शिक्षा लन्दन में पूरी की थी।
  6. पंडित जवाहर लाल नेहरू को चाचा नेहरू के नाम से भी जाना जाता है।
  7. जवाहल लाल नेहरू स्वतंत्र भारत के पहले प्रधानमंत्री थे।
  8. नेहरू जी के जन्मदिवस 14 नवम्बर को प्रत्येक वर्ष बाल दिवस के रूप में भी मनाया जाता है।
  9. नेहरू जी का निधन 27 मई 1964 को दिल का दौरा पड़ने हुआ था।
  10. नेहरू जी की पुत्री जिनका नाम श्रीमती इंदिरा गाँधी जी था आगे चलकर भारत की प्रधानमंत्री बनी।

Few lines on pandit Jawaharlal Nehru in hindi

  1. जवाहरलाल नेहरू भारत के पहले प्रधानमंत्री रहे और इन्होने ही दिल्ली के लाल किले पर पहली बार तिरंगा फहराया था।
  2. जवाहरलाल नेहरू जी के पत्नी का नाम कमला नेहरू था।
  3. जवाहरलाल नेहरु जी को 1955 में भारत रत्न पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।
  4. जवाहरलाल नेहरु जी को तीन भाई बहन थे और वह सभी भाई बहनों में सबसे बड़े थे।
  5. जवाहरलाल नेहरु जी ने भारत और विश्व, सोवियत रूस, भारत की एकता और स्वतंत्रता जैसी किताबें लिखी थी।
  6. उन्होंने डिस्कवरी ऑफ इंडिया नामक एक पुस्तक भी लिखी थी।
  7. चाचा नेहरू को लाल गुलाब बहुत पसंद था।
  8. ये हमेशा अपने कोट के लाल गुलाब रखते थे।
  9. ये एक स्वतंत्रता सेनानी थे, इनका नाम स्वर्ण अक्षरों में लिखा जाता हैं।
  10. ये 15 अगस्त 1947 से 27 मई 1964 तक हमारे देश के प्रधानमंत्री रहे।

10 lines on pandit Jawaharlal Nehru in hindi

  1. जवाहरलाल नेहरू जी और उनकी पत्नी कमला नेहरू को एक लड़की थी जिसका नाम श्रीमती इंदिरा गांधी था, जो आगे चलकर भारत की प्रधानमंत्री बनी।
  2. जवाहरलाल नेहरू जी के पिता पंडित मोतीलाल नेहरू एक बड़े बैरिस्टर थे और वह काफी मशहूर समाजसेवक भी थे।
  3. जवाहरलाल नेहरू अच्छे राजनेता और हमारे देश के प्रधानमंत्री होने के साथ ही एक अच्छे लेखक थे और उन्होंने बहुत सी किताबें लिखी थी।
  4. पंडित जवाहर लाल नेहरू जनता के प्रधानमंत्री थे, वह एक प्रबुद्ध और विद्वान भी थे। वह अपने समय के सबसे लंबे नेताओं में से एक थे।
  5. यह जवाहर लाल नेहरू ही थे जिन्होंने भिलाई, राउरकेला और बोकारो जैसे देश के सबसे बड़ी स्टील प्लांट स्थापित किए। इतना ही नहीं आईआईएससी (IISC) और आईआईटी (IIT) जैसे कई बड़े शैक्षिक संस्थान भी स्थापित किए.
  6. पंडित जवाहर लाल नेहरू एक अच्छे लेखक भी थे। उन्होंने अंग्रेजी में कई पुस्तकें भी लिखी हैं जिनमें डिस्कवरी ऑफ इंडिया और Glimpses of World History प्रमुख हैं.
  7. उन्होंने विश्वभ्रमण किया और अंतरराष्ट्रीय नायक के रूप में पहचाने गए।
  8. उन्होंने 6 बार कांग्रेस अध्यक्ष के पद (लाहौर 1929, लखनऊ 1936, फैजपुर 1937, दिल्ली 1951, हैदराबाद 1953 और कल्याणी 1954) को सुशोभित किया।
  9. 1942 के ‘भारत छोड़ो’ आंदोलन में नेहरूजी 9 अगस्त 1942 को बंबई में गिरफ्तार हुए और अहमदनगर जेल में रहे, जहां से 15 जून 1945 को रिहा किए गए।
  10. पंडित जवाहर लाल नेहरू जी को कभी भुलाया नहीं जा सकता उनकी यादें हमारे दिलों में जिंदा हैं और जिंदा रहेंगी.

10 lines on pandit Jawaharlal Nehru hindi

  • 16 साल की उम्र तक जवाहर लाल नेहरू की अधिकांश शिक्षा उनके घर पर ही हुई| इस दौरान उन्होंने अंग्रेजी, हिंदी और संस्कृत भाषा की शिक्षा मिली। लेकिन अंग्रेजी की पढ़ाई पर विशेष जोर रहा.
  • जवाहरलाल नेहरू जी की पढ़ाई विदेश में हुई थी, उन्होंने 1910 में कैंब्रिज विश्वविद्यालय में पढाई की और 1912 में इनर टेंपल जो की लंदन का कॉलेज है यहां से बैरिस्टर की उपाधि हासिल की थी।
  • जवाहरलाल नेहरू जी को पंडित नेहरू और चाचा नेहरू भी कहा जाता है, साथ ही में उन्हें आधुनिक भारत के शिल्पकार भी कहा जाता है।
  • जवाहरलाल नेहरु जी को सभी बच्चे चाचा नेहरू कहा करते थे, इस वजह से जवाहरलाल नेहरू जी के जन्मदिन 14 नवंबर को हर वर्ष बाल दिवस मनाया जाता है।
  • जवाहरलाल नेहरू जी की लिखी हुई किताब डिस्कवरी ऑफ इंडिया सबसे ज्यादा लोकप्रिय किताब थी, यह किताब उन्होंने 1944 अहमदनगर के जेल में रहते हुए लिखी थी।
  • पंडित जवाहर लाल नेहरू कश्मीर के एक प्रवासी पंडित परिवार से थे। पेशे से वकील पं० मोतीलाल नेहरू और उनकी पत्नी स्वरूप रानी की चार संतानों में जवाहर लाल नेहरू सबसे बड़े थे।
  • जवाहर लाल नेहरू की इच्छा की वह बतौर वकील प्रैक्टिस करें लेकिन यह काम कुछ दिन तक ही कर सके।
  • महात्मा गांधी जिस तरह अंग्रेजों से देश को मुक्त कराने के लिए अभियान चला रहे थे उसे नेहरू जी काफी प्रभावित हुए और महात्मा गांधी के साथ हो लिए।
  • आजादी के आंदोलन में पंडित नेहरू को 1929 में पहली बार जेल हुई।इसके बाद कई बार उनकी गिरफ्तारी हुई। उस समय नेहरू जी ने अपने मां-बाप और बीमार पत्नी को खो दिया था।उसके बाद उन्होंने देश की आजादी के लिए अपने पूरे समय का बलिदान दिया।
  • जवाहरलाल नेहरू जी की मृत्यु 27 मई 1964 मे नई दिल्ली में हुई थी।

इन्हें भी पढ़े : –

Leave a Comment