वार्षिक दिवस पर भाषण | Annual Function Speech in Hindi

अगर आप अपने कॉलेज या स्कूल में वार्षिक उत्सव के अवसर पर भाषण देना चाहते हैं तो हमारे पोस्ट को पढ़कर एक अच्छी स्पीच दे सकते हो।

सभी छात्र छात्राएं चाहे वह स्कूल में पढ़ते हो या कॉलेज में सभी के लिए वार्षिक उत्सव अर्थात Annual function यादगार दिन होता है।

Annual function speech in Hindi (वार्षिक दिवस पर भाषण)

Annual function speech in Hindi

स्कूल या कॉलेज खत्म होने के बाद बस यादें ही सभी छात्र व छात्राओं के पास रह जाती हैं, स्कूल या कॉलेज के सारे प्रोग्राम या फंक्शंस छात्र एवं छात्राओं के लिए यादगार लम्हा होता है उन्हीं में से एक होता है वार्षिक उत्सव जिसे हम अंग्रेजी में Annual function कहते है। इसमें बहुत सारे कार्यक्रमों को प्रस्तुत किया जाता है और वार्षिक उत्सव को यादगार बनाया जाता है।

उसी वार्षिक उत्सव के ऊपर आज मै आपके लिए भाषण ले कर आई हूँ जिसको अपने स्कूल व कॉलेज में बोलकर आप Annual function के दिन सभी पर एक अच्छी छाप छोड़ जायेंगे।

वार्षिक दिवस पर भाषण 1:-

आदरणीय प्राचार्य महोदय, एवं शिक्षक गण तथा यहाँ उपस्थित मेरे प्रिय दोस्तों आप सभी को मेरे तरफ से सादर प्रणाम!

आज का दिन मेरे एवं मेरे सभी दोस्तों एवं पूरे विद्यालय/विश्वविद्यालय के लिए यादगार दिन हैं, क्योंकि हम सभी जानते हैं कि आज हमारे विद्यालय का 1 वर्ष पूर्ण हो चुका है जो हमारे लिए गौरव की बात है। इस साल हमने स्कूल में पढ़ाई किया और पढ़ाई करने के साथ कई सारी नई चीजें सीखें, कई दोस्त बने, तथा विभिन्न प्रकार के अनुभव मिले और वार्षिक उत्सव यादगार सालों के सूची में शामिल हो गया।

मुझे बहुत खुशी है कि मुझे इस वार्षिक उत्सव के अवसर पर भाषण देने का अवसर प्राप्त हुआ। स्कूल/कॉलेज में बिताया गया दिन सबसे यादगार दिन होता है। स्कूल में हम नई जानकारियां नये अनुभव, तथा कॉलेज में शिक्षकों के मार्गदर्शन से हमारे उज्जवल भविष्य की शुरुआत होती है।

स्कूल या कॉलेज में शिक्षक अपने बच्चों की तरह सभी छात्रों को एक समान रूप से अच्छी शिक्षा और प्यार देते हैं। ताकि हम अपना भविष्य संवार सकें । मुझे बहुत गर्व है कि मुझे स्कूल में इतने अच्छे शिक्षक/शिक्षिका मिले जिन्होंने मुझे हमेशा अच्छे कार्य करने के लिए प्रेरित किया और मुझे सफलता की ओर बढ़ने के लिए प्रेरित किया।

इनके अलावा स्कूल में या कॉलेज में हमें बहुत अच्छे एवं शानदार दोस्त मिलते हैं, मुझे हमारे स्कूल में बहुत प्यारे एवं अनमोल दोस्त मिले जो मेरे लिए सर्वश्रेष्ठ उपहार है। स्कूल और कॉलेज में आपको दोस्त बहुत सारे मिलेंगे किंतु स्कूल के दोस्त सदैव याद रहेंगे।

स्कूल में बहुत सारे ऐसे दोस्त मिल जाते हैं जो भाई, बहन के समान होते हैं खून का रिश्ता ना होते हुए भी दिल का रिश्ता अर्थात घनिष्ठ संबंध हो जाता है। लेकिन दोस्तों यह साल खत्म होने वाला है और हम इस साल को अलविदा कहने वाले हैं, स्कूल जीवन के बाद हम अपनी जिंदगी के नए मोड़ पर जाने वाले हैं। स्कूल का दिन हम छात्र छात्राओं के लिए बहुत यादगार दिन होता है और हम दोस्त हमेशा साथ रहेंगे।

स्कूल में पढ़ते हुए आज का दिन हमारी जिंदगी का सबसे यादगार दिया होता है इसके लिए स्कूल में बहुत सारी तैयारियां होती है और स्कूल के द्वारा छात्रों के माता पिता और अभिभावकों को बुलाया जाता है ताकि इस मौके को और भी यादगार बनाया जा सके।

यहां कुछ ही समय में विभिन्न प्रकार के रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत किए जाएंगे जिनमें गाने और डांस परफॉर्मेंस का प्रस्तुति किया जाएगा। इस वार्षिक उत्सव के अवसर को और भी मजेदार एवं यादगार बनाने के लिए यह हमारी तरफ से कुछ विशेष व्यवस्थाएं किए गए हैं। कुछ गेम्स देखने को मिलेंगे जिन्हें सभी पेरेंट्स टीचर और छात्र-छात्राएं मिलकर एक साथ खेल सकते हैं।

यह हमारा एक छोटा सा कोशिश है जिससे हम अपने शिक्षक / शिक्षिका और सभी छात्र छात्राओं के आए माता पिता तथा अभिभावकों को थैंक यू बोल सके।

तो प्रिय दोस्तों और मेरे प्रिय शिक्षक, शिक्षिका तथा सभी आए हुए मेहमानों के उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए मैं अपने शब्दों को यही रोक रही हूं। हमारे आदरणीय प्रिंसिपल सर तथा सभी शिक्षक गणों को मैं एक बार पुनः दिल से धन्यवाद करती हूं। जिन्होंने मेरे बेहतर भविष्य के लिए हमेशा मार्गदर्शन किया।

धन्यवाद!

इन्हें भी पढ़े :-

वार्षिक दिवस पर भाषण 2:-

आप सभी को मेरी तरफ से नमस्कार!…. (विद्यालय का नाम) के वार्षिक उत्सव के इस अवसर पर मैं आप सभी का दिल से हार्दिक अभिनंदन करती हूं। यह हमारा सौभाग्य है कि इस अवसर पर हमारे साथ हमारे आदरणीय शिक्षक तथा मुख्य अतिथि उपस्थित हैं जिनका मैं दिल से अभिनंदन वंदन करती हूं।

आज के दिन इस खुशहाल जश्न के शुभ अवसर पर असली हकदार हमारे सभी प्रिय छात्र-छात्राएं हैं। मैं यहां उपस्थित सभी छात्रों और उनके माता-पिता, तथा अभिभावकों का दिल से स्वागतकरती हूं।

सभी के साथ आज का दिन या सफर काफी शानदार एवं मंगलमय रहा, जिससे हमारे स्कूल के सभी शिक्षकों द्वारा छात्रों को समान रूप से उनके अंदर छिपी प्रतिभा अर्थात कला को बाहर निकालने और उन्हें बेहतर भविष्य के लिए हर प्रयास किए।

छात्रों के अंदर आत्मविश्वास को लाने और उनको अच्छी सीख देने, समाज में अपने विचारों को दूसरे तक पहुंचा कर बेहतर निर्णय ले सके, बच्चे देश के भविष्य होते हैं बच्चों के शिक्षा के स्तर को मजबूत करने के लिए उनके उज्जवल भविष्य का निर्माण शिक्षकों के द्वारा ही कराया जाता है। ताकि हम भविष्य में अच्छे नागरिक बन सके और अपना कर्तव्य निभा सके।

इसी लक्ष्य/उद्देश्य के साथ हमारा विद्यालयछात्रों को उनके बेहतर शिक्षा के लिए हर संभव प्रयास करता है ताकि एक बढ़िया शिक्षा वातावरण तैयार किया जा सके, अब हम समय को देखते हुए अपनी वाणी को यहीं विराम देते हैं क्योंकि उचित समय में विभिन्न प्रकार के कार्यक्रमों को आयोजित किया गया है जो कुछ क्षण में शुरु किया जाएगा। मुझे आशा है आपके सामने प्रस्तुत किए जाने वाले कार्यक्रम आपको अच्छे लगेंगे,

धन्यवाद!

वार्षिक दिवस पर भाषण 3:-

वार्षिक उत्सव के इस अवसर पर मुख्य अतिथि के स्वागत के लिए भाषण, आदरणीय प्रधान अध्यापक जी, शिक्षक एवं यहां उपस्थित सभी साथियों को मेरा नमस्कार, आप सभी का हमारे स्कूल के वार्षिकोत्सव में उपस्थित होने के लिए दिल से धन्यवाद करती हूं।

मेरा नाम …….., मैं कक्षा …… की छात्रा हूं और इस सांस्कृतिक आयोजन की हिस्सा हूं, यह बताते हुए मुझे बेहद खुशी हो रहा है कि आज हमारे स्कूल के … वर्ष पूर्ण हो चुके हैं, यह हमारे स्कूल के आदरणीय प्रधानाध्यापक जी, शिक्षक गण एवं समस्त छात्र छात्राओं के लिए बेहद यादगार दिन है क्योंकि आज हम वार्षिक उत्सव मनाने जा रहे हैं।

विद्यालय को शिक्षा का मंदिर कहा जाता है। जहां हम विद्यार्थी, छात्र छात्राओं के उज्जवल भविष्य की नींव स्थापित होती है। पिछले कई वर्षों से महाविद्यालय हजारों छात्र-छात्राओं के जीवन में ज्ञान का दीपक जलाते हुए आ रहा है और आज हमारे लिए जो बेहद खुशी और गौरव की बात है ।

यह सिलसिला खत्म नहीं होने वाला अभी कई सालों तक हमारा विद्यालय ऐसे ही छात्र-छात्राओं के असीम सफलताओं की ओर बढ़ता रहेगा और बच्चों की भविष्य को प्रेरणादायक बनाते रहेगा।

स्कूल की सफलता के पीछे छात्र-छात्राएं और सभी शिक्षक शिक्षिकाओं का अहम भूमिका होता है। हम सभी विद्यार्थियों एवं शिक्षक शिक्षिकाओं को एक साथ विद्यालय की उन्नति में अपना योगदान देना चाहिए।

कुछ समय में मंच पर हमारे कार्यक्रम प्रस्तुत किए जाएंगे इससे पहले मैं हमारे आए हुए आदरणीय अतिथि गणों को मैं यहां आमंत्रित करती हूं वह आए और अपना दो वचन हम विद्यार्थियों और सभी आए मेहमानों के लिए अपना प्रेरणा और विचारों को हमारे समक्ष रखें तथा अपना आशीर्वाद दें।

धन्यवाद!

वार्षिक दिवस पर भाषण 4:-

यहाँ सभी उपस्थित शिक्षक/शिक्षिका, आदरणीय प्रिंसिपल सर, और सभी विद्यार्थियों के आए माता-पिता को आज इस अवसर पर मेरी तरफ से नमस्कार!, आशा करती हूं आप सभी कुशल मंगल होंगे, आप सभी को यह पता है कि आज हम वार्षिक उत्सव मनाने जा रहे हैं इस अवसर पर सभी उपस्थित हुए हैं, आप सभी का इस अवसर पर मैं हृदय से अभिनंदन वंदन करती हूं।

आप सभी को मेरी तरफ से शुक्रिया, मुझे गर्व है कि जिन्होंने कई वर्षों से इस स्कूल के अध्यापकों पर विश्वास बना कर इस शिक्षा के संस्थानों को अपने बच्चों के शिक्षा के लिए पढ़ने को भेजा और आज वह दिन है जिस दिन पुरस्कार और मेडल्स के साथ छात्रों को उनके द्वारा वर्ष भर में किए गए सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए पुरस्कृत किया जाता है, और यह बच्चों के लिए बेहद खुशी की बात होती है इससे छात्र-छात्राओं में हौसले और अधिक बढ़ते हैं।

मुझे यह बताते हुए बहुत खुश है हो रहा है कि हमारे स्कूल के छात्रों ने ना सिर्फ खेल बल्कि विभिन्न प्रकार के प्रतियोगिताओं जैसे रंगोली प्रतियोगिता, निबंध प्रतियोगिता, सभी क्षेत्र के प्रतियोगिता में बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया और अपने प्रदर्शन को निखारा।

अनेक ऐसी प्रतियोगिता हुई जिसमें छात्र-छात्राओं ने दूसरे विद्यालय में जाकर अपने बेहतरीन प्रदर्शन का परफॉर्मेंस दिया और अपने माता पिता और हमारे स्कूल के नाम को गौरवान्वित किया।

वार्षिक उत्सव प्रतियोगिता या अन्य कोई प्रतियोगिता आयोजित करने का लक्ष्य होता है हम छात्रों के अंदर छुपी कला, को बाहर ला सके और किस छात्रा में कितना टैलेंट है और छात्र किस क्षेत्र में बेहतर है भविष्य में होने वाली प्रतियोगिताओं के लिए उन्हें अभी से मार्गदर्शन किया जा सके।

छात्र-छात्राओं की शिक्षकों के ऊपर बहुत बड़ी जिम्मेदारी होती है कि वह छात्र-छात्राओं के अंदर छिपी प्रतिभा एवं कला का बोध कर उसे मार्गदर्शन कर सकें, और आज का दिन यानी वार्षिक उत्सव हम सभी के लिए यादगार दिन होता है इस मौके पर छात्र छात्राओं के द्वारा बेहतरीन प्रदर्शन को दिखने हेतु विभिन्न प्रकार के कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है। इस मंच पर छात्र-छात्राएं अपने डांस, कॉमेडी शो, तथा उनके अंदर छिपी प्रतिभा को आपके सामने प्रस्तुत करेंगे जो इस दिन को यादगार बनाने में सहायक होगा।

इतना ही कह कर मैं अपना स्थान ग्रहण करना चाहती हूं।

धन्यवाद!

वार्षिक दिवस पर भाषण 5:-

“झिलमिल सितारे सारे करते आपको वंदन है, पधारे अतिथियों को हमारा शत-शत अभिनंदन है।”

आज के इस शुभ अवसर पर उपस्थित आदरणीय गुरु जन, पधारे हुए सभी सम्मानीय अतिथि जन आप सभी को मेरा हृदय से प्रणाम, आदरणीय गुरुजनों एवं मेरे विद्यालय के सहपाठियों इस वर्ष आप सभी के बीच रहकर मुझे बहुत खुशी, हिंसा से सुरक्षित और इस भर्ती दुनिया का प्रभावी ढंग से सामना करने की दिशा की ओर क्षमता मिली है।

जो विद्यालय में रहकर सीखने को मिलता है यह विद्यालय जो हमारे अंदर बदलाव लाता है उसका लाभ हमें हमारे जीवन के अंत तक होता है। विद्यालय हमें अंधकार से प्रकाश की ओर ले जाता है अर्थात हमारे जीवन से अज्ञानता रूपी अंधकार को मिटाकर उसकी जगह ज्ञान रूपी प्रकाश को भरता है और उसी ज्ञान के कारण हमारे अंदर की छिपी प्रतिभा और उज्जवल उज्ज्वलता उभरने लगती है।

आदरणीय शिक्षक गण हम सभी सदैव आपके आभारी रहेंगे, आज के समय में कोई भी नहीं चाहता कि कोई हमसे आगे निकले किंतु शिक्षक शिक्षिका हमें सदैव मार्गदर्शन करते हैं भविष्य में आगे बढ़ने को, विद्यार्थी के उज्जवल भविष्य के प्राप्ति से शिक्षक शिक्षिकाओं को बहुत गर्व होती है।

आदरणीय शिक्षक गण आप अथक लगन, तप एवं परिश्रम से हमारी जीवन को सफल बनाने में लगे हैं, आपने जो विद्यार्थी धन हमें दिया है वह हर प्रकार से हमारे भविष्य के लिए श्रेष्ठ है।

अतः मैं इतना ही कह कर अपनी वाणी को विराम देना चाहूंगी ।

धन्यवाद!

वार्षिक दिवस पर भाषण 6:-

मैं इस विद्यालय के वार्षिक उत्सव में उपस्थित माननीय मुख्य अतिथि महोदय, श्री……, विशिष्ट अतिथि श्री……., स्कूल प्राचार्य श्री……, का हार्दिक अभिनंदन करती हूं।

यहां आए सभी विद्यार्थी ,महिलाएं, युवाओं, एवं उपस्थित मेरे प्रिय सहपाठियों मैं आप सभी का स्वागत करती हूं।

मैं इस वार्षिक उत्सव पर अपने सभी सहपाठियों और शिक्षक गणों को दिल से प्रणाम करती हूं आज हम वार्षिक उत्सव मना रहे हैं आज का दिन हम विद्यार्थियों के लिए यादगार दिन होता है, यह हम स्कूल छोड़कर चले जाएंगे तब भी हमारे दिलों में यादगार रहेगा, और हमारे प्रिय आदरणीय शिक्षक गण आप सभी को हम विद्यार्थियों के उज्जवल भविष्य के लिए मार्गदर्शन तथा प्रेरणा देने के लिए सादर प्रणाम!

आज का दिन यानी वार्षिकोत्सव जिन विद्यार्थियों के सम्मान में आज यह कार्यक्रम आयोजित हो रहा है उन विद्यार्थियों को उनके उज्जवल भविष्य की बधाई देती हूं। हमारे कार्यक्रम की शान विद्यार्थीगढ़ और विशिष्ट लोग जिनके साथ की बदौलत हमारे बीच यह कार्यक्रम संपन्न हो रही है।

आज का दिन मेरे विद्यालय का महत्वपूर्ण दिन है क्योंकि आज हम वार्षिक उत्सव के रूप में हम सभी एक जगह विद्यालय परिसर में एकजुट हुए हैं।

आप सभी माता-पिता जो इस विनम्र प्रयास का हिस्सा है, आज वह दिन है जब हमारे विद्यालय में विद्यार्थियों को पुरस्कार और मेडल सेपुरस्कृत किया जाएगा, जिन विद्यार्थियों ने अपनी प्रतिभा के बल पर प्रतियोगिताओं में उत्कृष्ट प्रदर्शन किए है। प्रतियोगिता ऐसे मंच है जहाँ हम विद्यार्थियों को अनेक कला सिखाई जाती है, जिसके माध्यम से हम विद्यार्थी अपने भविष्य को उज्ज्वल बना पाते हैं।

इतना ही कहकर मैं अपना स्थान ग्रहण करना चाहती हूं। आप सभी ने मेरे शब्दों को सुना उसके लिए हृदय से धन्यवाद!

Leave a Comment