250+ वचन बदलने वाले शब्द | Vachan Badlo in Hindi

नमस्कार दोस्तों इस लेख में हम वचन के बारे में विस्तार से चर्चा करेंगे. वचन एक बहुत ही महत्वपूर्ण विषय है जो अक्सर छोटी कक्षाओं के बच्चे जैसे पहली कक्षा से लेकर आठवीं कक्षा तक के बच्चों को पूछा जाता है.  

विद्यार्थी अक्सर शब्दों के वचन बादलो, Vachan Badlo in Hindi ऐसे प्रश्न गूगल पर सर्च करते रहते है क्योंकि कुछ शब्द ऐसे होते है जो उनको अक्सर दुविधा में डालते हुए दिखाई देते है.

इस लेख में हम वचन क्या है? वचन के प्रकार वचन बदलने के नियम और वचन बदलने वाले शब्दों के बारे में जानकारी देंगे। यहां हमने बहुत से ऐसे शब्दों की सूचि तैयार की है जो बहुत ही महत्वपूर्ण शब्द है और इनका प्रयोग सामान्यतः होता रहता है.

दोस्तों वचन का प्रयोग केवल हिंदी भाषा में ही नहीं होता है बल्कि सभी भाषाओ में वचन विषय का बहुत ही महत्त्व है और विद्यार्थियों को वचन की स्पष्ट रूप से जानकारी होना बहुत ही आवश्यक है.

चलिए दोस्तों वचन विषय को विस्तृत रूप से समझते है. आप वचन बदलो हिंदी लेख को अन्त तक जरूर पढ़े और अगर ये लेख आपको उपयोगी लगे तो अपने दोस्तों में भी शेयर करे. चलिए शरु करते है.

Vachan Badlo in Hindi

वचन क्या है या वचन किसे कहते है? (Vachan Badlo in Hindi)

वचन बदलने वाले शब्दों के बारे में जानकारी के इस लेख में सर्वप्रथम हम वचन किसे कहते है? इसको समझते है ताकि वचन बदलो शब्दों को आसानी से समझ सके.

वचन की परिभाषा – संज्ञा या सर्वनाम या विशेषण के जिस रुप से संख्या का बोध होता है उसे वचन कहते है अर्थात जहाँ किसी वस्तु या व्यक्ति का एक या एक से अधिक होने का बोध हो.

उदाहरण के लिए जैसे –   

  1. लड़का क्रिकेट खेल रहा है.
  2. लड़के क्रिकेट खेल रहे है.     

ऊपर उदाहरण में बताए दोनों ही वाक्यों में लड़का और लड़के दोनों वचन के अलग-अलग प्रकार है जो सँख्या का बोध दर्शाते हुए दिखाई दे रहे है. जैसे लड़का शब्द संज्ञा की एक संख्या को दर्शा रहा है वहीं लड़के शब्द संज्ञा के एक से अधिक होना दर्शा रहा है.

वचन के प्रकार 

वचन के प्रकार की बात करे तो वचन के वचन के दो ही प्रकार होते है एकवचन और बहुवचन. चलिए एक-एक करके विस्तार से समझते है वचन के इन दोनों प्रकारों को.

  1. एकवचन – वचन का वह प्रकार जहाँ संज्ञा, सर्वनाम या विशेषण की संख्या का केवल एक ही होना दर्शाया जाता है उसे एकवचन कहा जाता है. जैसे लड़का, पुस्तक, मेज, स्री, पुरुष, पेड़, पौधा, बच्चा, कपड़ा, तालाब, पंखा, खेल, कम्प्यूटर, डॉक्टर, बस, मोटरसाइकिल, कार, इंजीनियर, शिक्षक, छात्र, नेता, किसान, बैल, घोड़ा आदि एकवचन के कुछ उदाहरण है,
  1. बहुवचन – वचन का वह प्रकार जहाँ संज्ञा, सर्वनाम या विशेषण की संख्या का एक से अधिक होना दर्शाया जाता है उसे बहुवचन कहा जाता है. जैसे लड़के, पुस्तके, मेजों, स्त्रियाँ, पुरुषों, पेड़ों, पौधों, बच्चों, कपड़ों, तालाबों, पंखों, खेलों, कम्प्यूटरों, डॉक्टरों, बसों, मोटरसाइकिलों, कारों, इंजीनियरों, शिक्षकों, छात्रों, नेताओं, किसानों, बैलों, घोड़ों आदि बहुवचन के कुछ उदहारण है.

एकवचन से बहुवचन में बदलने के नियम 

वचन के एक प्रकार को दूसरे प्रकार में बदलने के लिए कुछ नियमों का प्रयोग किया जाता है. चलिए एकवचन से बहुवचन में बदलने के इन नियमों को समझते है.

  • शब्दान्त में “अ” की मात्रा को “एँ” की मात्रा में बदलना

        उदहारण के लिए जैसे –

  1. सड़क का बहुवचन सड़कें हो जाएगा  
  2. दीवार का बहुवचन दीवारें हो जाएगा 
  3. मोटरसाइकिल का बहुवचन मोटरसाइकिलें हो जायेगा 
  • शब्दान्त में “आ” की मात्रा को “ए” की मात्रा में बदलना 

उदाहरण के लिए जैसे –

  1. लड़का का बहुवचन लड़के हो जाएगा 
  2. बेटा का बहुवचन बेटे हो जाएगा 
  3. रसगुल्ला का बहुवचन रसगुल्ले हो जाएगा 
  • शब्दान्त में “ई” की मात्रा को “इयाँ” की मात्रा में बदलना 

उदहारण के लिए जैसे –

  1. लड़की का बहुवचन लड़कियाँ हो जाएगा 
  2. लकड़ी का बहुवचन लकड़ियाँ हो जाएगा 
  3. नदी का बहुवचन नदियाँ हो जाएगा 
  • कुछ शब्द ऐसे है जिनके अन्त में गण, जन, हर, वर्ग आदि शब्द लगाकर बहुवचन में बदल दिया जाता है 

उदहारण के लिए जैसे –

  1. शिक्षक का बहुवचन शिक्षकगण हो जाएगा 
  2. गुरु का बहुवचन गुरुजन हो जाएगा 
  3. युवा का बहुवचन युवावर्ग हो जाएगा 
  • शब्दान्त में “आ” की मात्रा के साथ “एँ” जोड़ना 

उदहारण के लिए जैसे –

  1. माला का बहुवचन बालाएँ हो जाएगा 
  2. कथा का बहुवचन कथाएँ हो जाएगा 
  3. बाला का बहुवचन बालाएँ हो जाएगा 
  • सम्बन्ध दर्शाने वाले शब्दों का एकवचन और बहुवचन सामान होगा 

उदहारण के लिए जैसे –

  1. माँ का बहुवचन माँ ही होगा 
  2. पिता का बहुवचन पिता ही होगा 
  3. चाचा का बहुवचन चाचा ही होगा 

         इनके अलावा और भी शब्द है जैसे दादी, दीदी, दादा, मौसा, भुआ, फूफा, मामा आदि.

  • बहुत से ऐसे शब्द है जो हमेशा बहुवचन में ही होते है 

उदहारण के लिए जैसे –

  1. समाचार
  2. पानी 
  3. प्राण 
  4. दर्शन आदि  

वचन बदलने वाले शब्द 

एकवचन बहुवचन 
पुरुष पुरुषों 
महिला महिलाएं 
देवी देवियाँ 
देवता देवताओं 
केलाकेले
काका काका 
आँख आँखे 
कुर्सी कुर्सियां 
लड़का लड़के 
लड़की लड़कियाँ 
किताब किताबें 
नदी नदियाँ 
सड़क सड़के 
नहर नहरे 
फल फलों  
फूल फूलों 
पौधा पौधे 
पेड़ पेड़ों 
नाला नाले 
नल नलों 
घर घरों 
मकान मकानों 
बिजली बिजलियाँ 
रात रातें 
बच्चा बच्चे 
नीति नीतियाँ 
तितली तितलियाँ 
चिड़िया चिड़ियाँ 
कबूतर कबूतरों 
घोड़ा घोड़े 
सन्तरा सन्तरे 
टोपी टोपियाँ 
मोती मोतियों 
कर्मचारी कर्मचारियों 
नौकर नौकरों 
मुर्गा मुर्गे 
थाली थालियाँ 
गिलास गिलासें 
कॉपी कॉपियाँ 
जूता जूते
चप्पल चप्पलें 
बर्तन बर्तन 
शाखा शाखाएँ 
शहर शहरों 
राज्य राज्यों 
देश देशों 
विदेश विदेशों 
राजधानी राजधानियाँ 
अतिथि अतिथिगण 
अख़बार अख़बारों 
रसगुल्ला रसगुल्ले 
कचोरी कचोरियाँ 
गाय गायें 
गधा गधे 
बिल्ली बिल्लियाँ 
टांग टांगे 
हाथ हाथों 
कन्धा कन्धों 
खेल खेलों 
अधिकारी अधिकारीयों 
मुख्यमंत्री मुख्यमंत्रियों 
मंत्री मंत्रियों 
सलाहकार सलाहकारों 
नृतक नृतकों 
गायक गायकों 
कलाकार कलाकारों 
चालक चालकों 
सहेली सहेलियां 
गहना गहने 
साड़ी साड़ियां 
पक्षी पक्षियों 
पशु पशुओं 
रेखा रेखाओं 
शीशा शीशे 
तालाब तालाबों 
बांध बांधों 
खिड़की खिड़कियाँ  
अस्पताल अस्पतालों 
कार कारों 
प्रदार्थ पदार्थों 
बस्ता बास्ते 
पेटी  पेटियाँ 
कुआ कुएँ 
खेत खेतों 
बाल बालों 
दांत दाँतों  
कान कानों 
मटका मटके 
कुल्फी कुल्फियां 
चाय चाय 
रास्ता रास्ते 
बोतल बोतलें 
चश्मा चश्मे 
तस्वीर तस्वीरें 
मशीन मशीने 
रेत रेत 
चिड़िया चिड़ियाँ 
मोर मोर 
भोजनालय भोजनालयों 
राजा राजाओं 
सेनापति सेनापतियों 
बत्ती बतियाँ 
शेर शेरों 
भेड़ भेड़े  
मूर्ति मूर्तियां 
रजाई रजाईयाँ 
तौलिया तौलिये 
आत्मा आत्माएँ 
भूत भूतों 
महल महलों 
नक्शा नक्शे
ठिकाना ठिकाने 
टंकी टंकियाँ 
मेला मेले 
डाली डालियाँ 
तारा तारों 
ग्रह ग्रहों 
डिब्बी डिब्बियाँ 
ईंट ईंटें 
पाठक पाठकों 
चोर चोरों 
तिल्ली तिल्लियाँ 
तितली तितलियाँ 
कबूतर कबूतरों 
फिल्म फ़िल्में 
धारावाहिक धारावाहिकों 
गाड़ी गाड़ियाँ 
हथौड़ी हथौड़ियाँ 
दफ्तर दफ्तरों 
घड़ी घड़ियाँ 
ठठेरा ठठेरे 
भुजा भुजाएँ 
दाना दाने 
तोता  तोते 
चूहा चूहे 
जाति जातियाँ 
सपेरा सपेरे 
सब्जी सब्जियाँ 
लकड़ी लकड़ियाँ 

इन्हें भी पढ़े : –

निष्कर्ष – इस लेख में हमने Vachan Badlo विषय के बारे में विस्तार से जानकारी दी. दोस्तों उम्मीद है कि यह लेख आपके लिए उपयोगी रहा होगा. 

अगर आप एक विद्यार्थी है तो यह लेख अपने सहपाठी मित्रों के साथ शेयर जरूर करे. आपको कोई भी सवाल पूछना हो तो आप कमेंट बॉक्स के माध्यम से पूछ सकते है.

Leave a Comment